मंगलयान ने 1,000 दिन पूरे किए

0
541

भारत के मंगलयान ने सोमवार को मंगल की कक्षा में 1,000 दिन पूरे कर लिए। ‘मार्स ऑर्बिटर मिशन (एमओएम) ने छह महीने की निर्धारित मिशन अवधि से अलग मंगल की कक्षा में 1,000 दिन पूरे कर लिए। 1,000 दिन का मतलब है 973.24 मंगल सौर दिन और एमओएम ने 388 बार मंगल की कक्षा की परिक्रमा पूरी कर ली। मीडिया रिपोर्ट में इसरो के हवाले से बताया गया कि मंगल यान से मिले डेटा का वैज्ञानिक विश्लेषण किया जा रहा है।

भारत ने 24 सितंबर, 2014 को अपने पहले ही प्रयास में मंगल यान को मंगल के पास कक्षा में सफलतापूर्वक स्थापित किया था। इसके साथ ही भारत यह उपलब्धि हासिल करने वाले चुनिंदा देशों में शामिल हो गया था।

इसरो ने 5 नवंबर, 2013 को आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा से पीएसएलवी रॉकेट के माध्यम से मंगलयान को नौ महीने लंबे सफर पर भेजा था। एक दिसंबर, 2013 को मंगलयान पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण क्षेत्र से बाहर चला गया था। 450 करोड़ रुपये की लागत वाले मार्स आर्बिटर मिशन का उद्देश्य मंगल की सतह और उसकी खनिज संरचना का अध्ययन करना और मंगल के वायुमंडल में मिथेन गैस की मात्रा को मापना है। मिथेन गैस की मौजूदगी से जीवन की संभावनाओं का पता चलता है।’

LEAVE A REPLY