मानवभारती अंघेला हिल्स में लगी अविष्कार की कक्षा

0
551

देहरादून। देहरादून के पास मानव भारती अंघेला हिल्स में चार दिन की अविष्कार पालमपुर की कार्यशाला आयोजित की गई, जिसमें मैथ और साइंस पढ़ाने की वो तकनीकियां बताई गईं, जिनसे कोई भी छात्र इन विषयों को बोझ नहीं समझेगा और ये सब्जेक्ट उसकी पसंद बन जाएंगे।

अक्सर देखा गया है कि छात्रों को गणित और विज्ञान विषयों में कठिनाई महसूस होती है और वे इन विषयों से दूर भागने लगते हैं, लेकिन विशेषज्ञों का मानना है कि ये विषय बेहद रूचिकर और आसान हो जाते हैं, अगर हम इनको सिखाने और बताने की कुछ तकनीकी पर ध्यान दें।

 

मानवभारती अंघेला हिल्स में आयोजित वर्कशॉप की हमारी कक्षा में साइंस और मैथ पढ़ाने और सीखने के खास तरीकों और क्लासरूम प्रबंधन तकनीकी पर चर्चा हुई।

वर्कश़ाप में देशभर से 33 प्रतिभागी शामिल हुए। वर्कशॉप में बताया गया कि कक्षा में इन विषयों को सीखने और इनके अभ्यास का माहौल कैसे तैयार किया जाए।

बाएं से रजत मिश्रा, सीईओ इफ्कॉन इंडिया ग्रुप, डॉ. हिमांशु शेखर निदेशक मानवभारती, प्रोफेसर अरविंद मिश्रा,जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय, डॉ. महेश प्रसाद, प्रिंसिपल स्टेप बाय स्टेप स्कूल ग्रेटर नोएडा, प्रदीप कुमार, सचिव लॉर्ड बुद्धा फाउंडेशन बिहार

अगर आप वास्तव में एेसा माहौल तैयार करना चाहते हैं  तो आपको रोजाना इस तरह के अभ्यास और रुचिपूर्ण तरीके से सीखने पर ध्यान देना होगा।

 

LEAVE A REPLY