मानवभारती स्कूल में गीता स्वाध्याय केंद्रम् नौ जुलाई से

1
724

देहरादून। मानवभारती लाइव


मानवभारती स्कूल छात्र-छात्राओं के हर आयाम पर व्यक्तित्व विकास के लिए संकल्पबद्ध है। हमारा मानना है कि जीवन मूल्यों से परिपूर्ण शिक्षा व्यक्ति को जीने के लिए नई राह दिखाती है। शिक्षा संस्कारों वाली हो, जिसमें जीवन दर्शन की छवि साफ झलकती हो। जीवन में खुशहाली के सूत्र हमारे ग्रंथों में मिलते हैं। इसलिए मानवभारती ने बच्चों ही नहीं बल्कि अभिभावकों के लिए भी कुछ नया करने का संकल्प लिया है। इसके तहत 9 जुलाई , 2017 से सभी के लिए गीता स्वाध्याय केंद्रम् का शुभारंभ किया जा रहा है।

केंद्र में गीता के अध्यायाें और श्लोकों का जीवन में महत्व बताया जाएगा, ताकि व्यक्तित्व विकास के साथ जीवन में खुशहाली का पथ प्रशस्त किया जा सके। केंद्र में गीता पर परिचर्चा के लिए संस्कृत शिक्षक डॉ. अनंतमणि त्रिवेदी आपसे मुखातिब होंगे। गीता स्वाध्याय केंद्रम् में किसी भी आयु के व्यक्ति शामिल हो सकते हैं। गीता स्वाध्याय केंद्रम् हर रविवार प्रातः दस से 11 बजे तक नेहरू कॉलोनी स्थित मानवभारती इंटरनेशनल स्कूल परिसर में संचालित होगा। केंद्र में स्थान सीमित हैं।

  • संसार के सब ज्ञान का यह ज्ञानमय भंडार है। श्रुति उपनिषद् वेदांत, ग्रंथों का परम शुभ सार है।।
  • गीता हृदय भगवान् का, सब ज्ञान का शुभ सार है। इस शुद्ध गीता ज्ञान से ही चल रहा संसार है।।   

 

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY