मानवभारती स्कूल के गीता स्वाध्याय केंद्र को मुख्यमंत्री की शुभकामनाएं

0
612

मानवभारती लाइव


मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भारतीय संस्कृति और संस्कृत भाषा के प्रचार प्रसार के लिए निशुल्क गीता स्वाध्याय केंद्रम् की स्थापना पर मानवभारती स्कूल को शुभकामनाएं दी हैं।मानवभारती स्कूल परिसर में हर रविवार प्रातः दस से 11 बजे तक श्रीमद्भगवद् गीता और भारतीय संस्कृति की ज्ञान गंगा पर चर्चा की जा रही है। मानवभारती स्कूल हमेशा बेहतर और जीवन मूूल्यों पर आधारित नैतिक शिक्षा पर फोकस करता रहा है और स्वाध्याय केंद्र इसी प्रयास की एक कड़ी है।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मानव भारती के निदेशक डॉ. हिमांशु शेखर को लिखे संदेश में कहा कि उन्हें यह जानकर अत्यंत हर्ष हो रहा है कि नेहरू कॉलोनी स्थित मानव भारती विद्यालय परिसर में निशुल्क गीता स्वाध्याय केंद्रम की स्थापना की गई है। जहां श्रीमद्भभगवद् गीता के श्लोकों के मानव जीवन पर पड़ने वाले प्रभाव की स्पष्ट व्याख्या की जाएगी तथा केंद्र में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति की जिज्ञासा का समाधान होगा। मुख्यमंत्री श्री रावत ने आशा व्यक्त की कि मानव भारती सोसाइटी की ओर से शुरू गीता स्वाध्याय केंद्रम् अपने उद्देश्य में सफल होगा तथा इससे आम जनमानस श्रीमद्भगवद् गीता में दिए गए उपदेशों को अपने जीवन में उतारने का प्रयास करेगा, जिससे समाज में भाईचारा एवं सद्भावना की प्रेरणा को बढ़ावा मिलेगा। श्री रावत ने अपने संदेश में कहा कि मानव भारती स्कूल के शिक्षक डॉ. अनंतमणि त्रिवेदी का यह प्रयास सराहनीय है। उन्होंने श्रीमद्भगवद् गीता के स्वाध्याय की सफलता के लिए शुभकामनाएं दी हैं।

मालूम हो कि गीता स्वाध्याय केंद्र में भगवान श्रीकृष्ण के उपदेशों में समाहित जीवन मूल्यों और नैतिकता पर बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के महामना पुरस्कार से सम्मानित डॉ. अनंतमणि त्रिवेदी विस्तार से चर्चा कर रहे हैं। केंद्र में आने वाले हर व्यक्ति की जिज्ञासा का सरल संवाद में समाधान किया जा रहा है। मानवभारती स्कूल में प्रथम कक्षा से संस्कृत का ज्ञान कराते हुए बच्चों को रूचिपूर्ण तरीके से खेल-खेल में संस्कृत बोलना सिखाया जा रहा है।

 

LEAVE A REPLY